Bharatiya Jyotish Shastra Pdf / भारतीय ज्योतिष शास्त्र pdf

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Bharatiya Jyotish Shastra Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Bharatiya Jyotish Shastra Pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से ज्योतिष उपाय Pdf Download भी डाउनलोड कर सकते है।

 

 

 

Bharatiya Jyotish Shastra Pdf / भारतीय ज्योतिष शास्त्र पीडीएफ

 

 

 

पुस्तक का नाम  भारतीय ज्योतिष 
पुस्तक के लेखक  डॉ नेमिचन्द्र ज्योतिषाचार्य 
श्रेणी  ज्योतिष 
फॉर्मेट  Pdf 
Pdf साइज   9 MB
कुल पृष्ठ  534 
पुस्तक की भाषा  हिंदी

 

 

भारतीय ज्योतिष शास्त्र Pdf Download

 

ज्योतिष और रोग Pdf Download

 

ज्योतिष उपाय Pdf Download

 

 

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिए

 

 

 

आज्ञा मिलने पर बहुत से दूत दौड़े वानरों में हाथी के समान अंगद को बुला लाये। अंगद ने रावण को ऐसे बैठे देखा जैसे कोई प्राणयुक्त सजीव काजल का पहाड़ हो।

 

 

 

 

भुजाये वृक्षों के समान और सिर पर्वत के शिखरों के समान है। रोमावली मानो बहुत सी लताये है। मुंह, नाक, नेत्र और कान पर्वत की कंदराओं और खोह के बराबर है।

 

 

 

 

अत्यंत बलवान बांके वीर बालिपुत्र अंगद सभा में गए उनके मन में जरा भी झिझक नहीं थी। अंगद को देखते ही सब सभासद उठकर खड़े हो गए। यह देखकर रावण के हृदय में बहुत क्रोध हुआ।

 

 

 

 

19- दोहा का अर्थ-

 

 

जैसे मतवाले हाथियों के झुण्ड में सिंह निःसंक होकर चला जाता है वैसे ही श्री राम जी के प्रताप का हृदय में स्मरण करके वह निर्भय होकर सभा में सिर नवाकर बैठ गए।

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

 

रावण ने कहा – अरे बंदर! तू कौन है? अंगद ने कहा – हे दशग्रीव! मैं रघुवीर का दूत हूँ। मेरे पिता जी से और तुमसे मित्रता थी। इसलिए हे भाई! मैं तुम्हारी भलाई के लिए ही आया हूँ।

 

 

 

तुम्हारा उत्तम कुल है, पुलत्स्य ऋषि के तुम पौत्र हो। शिव जी की और ब्रह्मा जी की तुमने बहुत प्रकार से पूजा की है। उनसे वर प्राप्त करके तुमने सब कार्य सिद्ध किए है। लोकपालों और सब राजाओ को तुमने जीत लिया है।

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Bharatiya Jyotish Shastra Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.