दिल्ली सल्तनत का इतिहास Pdf | Delhi Sultanate Pdf in Hindi

मित्रों इस पोस्ट में Delhi Sultanate Pdf in Hindi दिया जा रहा है। आप नीचे की लिंक से Delhi Sultanate Pdf in Hindi Download कर सकते हैं और आप यहां से World History Book PDF In Hindi Download कर सकते हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Delhi Sultanate Pdf in Hindi

 

 

 

 

Delhi Sultanate Pdf

 

 

 

 

 

भाग्य के अनेक उतार-चढ़ाव देखने के बाद भी अफगानिस्तान चन्द्रगुप्त मौर्य के समय से हमारे देश का ही अंग था। चन्द्रगुप्त ने उसे ३०५ ई. पू. में सेल्यूकूस निकेटर से जीता था और प्रसिद्ध चीनी यात्री युवानच्यांग के भ्रमण- काल में काबुल की घाटी में एक क्षत्रिय राजा राज्य करता था जिसके वंश ने नवीं शताब्दी के अन्त तक राज्य किया।

 

 

 

 

तदुपरान्त इस वंश का स्थान लल्लिय द्वारा संस्थापित ब्राह्मण वंश ने ले लिया था। मुसलमान इतिहासकारों ने इस हिन्दू राज्य को काबुल और जावुल का राज्य कहा है परन्तु इसे हिन्दूशाही राज्य भी कहा जाता था। आठवीं शताब्दी के प्रारम्भिक वर्षों में जब सिन्ध पर अरबों का आक्रमण हुआ।

 

 

 

 

इस राज्य के राजाओं के नाम और उनके राज्य की सीमाओं के पता लगाने का हमारे पास कोई साधन नहीं है परन्तु यह निश्चित है कि इस राज्य के निवासी हिन्दू अथवा बौद्ध दोनों ही थे और वे सांस्कृतिक, राजनीतिक और आर्थिक दृष्टि से भारतीय जनता के ही अंग थे। पुस्तक को डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गयी बटन को दबाये।

 

 

 

 

 

पुस्तक का नाम दिल्ली सल्तनत का इतिहास Pdf
लेखक डॉ. आशीर्वादीलाल श्रीवास्तव
पेज 427
साइज 23.4 Mb
भाषा हिंदी

 

 

 

 

 

Delhi Sultanate Pdf in Hindi

 

 

 

 

 

Note- हम कॉपीराइट का पूरा सम्मान करते हैं। इस वेबसाइट Pdf Books Hindi द्वारा दी जा रही बुक्स, नोवेल्स इंटरनेट से ली गयी है। अतः आपसे निवेदन है कि अगर किसी भी बुक्स, नावेल के अधिकार क्षेत्र से या अन्य किसी भी प्रकार की दिक्कत है तो आप हमें [email protected] पर सूचित करें। हम निश्चित ही उस बुक को हटा लेंगे।

 

 

 

 

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Delhi Sultanate Pdf in Hindi आपको कैसी लगी जरूर बताएं और इस तरह की दूसरी पोस्ट के लिए इस ब्लॉग को सब्स्क्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें और फेसबुक पेज को लाइक भी करें, वहाँ आपको नयी बुक्स, नावेल, कॉमिक्स की जानकारी मिलती रहेगी।

 

 

 

 

Leave a Comment