दुर्गा सप्तशती संस्कृत Pdf | Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf

मित्रों इस पोस्ट में हम आपको Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf free download कर सकते हैं और आप यहां से Aarti Sangrah Pdf भी डाउनलोड कर सकते है।

 

 

 

Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf

 

 

 

 

 

 

जगत जननी माता भगवती का (दुर्गा -कवच)बहुत ही शक्ति शाली है। दुर्गा सप्तशती में वर्णित (देवी -कवच )एक प्रभावशाली अमोघ कवच है। इसके नित्य पाठ करने वाले की हर प्रकार से भगवती दुर्गा रक्षा करती हैं।( कवच ) इस तीन अक्षर का अर्थ एक शक्ति पूर्ण सुरक्षा घेरा ,जिससे माता भगवती का भक्त पूर्ण रूप से सुरक्षित रहता है।

 

 

 

 

(दुर्गा कवच ) में भगवती (दुर्गा )की अमोघ ,अलौकिक,शक्तिओं का वर्णन है। देवी कवच का पाठ करने वाले व्यक्ति की हर तरफ सभी प्रकार से सुरक्षा होती है। इसमें शरीर के सभी अंग का उल्लेख किया गया है ,जो कवच के पाठ से सदा सुरक्षित रहता है। भगवती का स्मरण करने मात्र से व्यक्ति को सुरक्षा का अनुभव होने लगता है। भगवती दुर्गा जगत माता हैं ,वह अपने आराधक की एक बालक की भांति सुरक्षा करती हैं।

 

 

 

(दुर्गा कवच ) के पाठ से लाभ –

 

 

 

दुर्गा कवच के पाठ से अनेक लाभ होतें हैं ,यथा –

१-दुर्गा कवच के दैनिक पाठ से पैशाचिक बाधाओं ,नकारात्मक शक्तिओं से सुरक्षा मिलती है।

२-नियमित रूप से दुर्गा कवच का पाठ करने से रोग ,व्याधि का समन होता है।

३-जो व्यक्ति श्रद्धा पूर्वक दुर्गा कवच का पाठ करता है उसकी सारी मनोकामना पूर्ण होकर सौभाग्य जागृत होता है।

४-देवी कवच के दैनिक रूप से पाठ करने से मनुष्य को वाह्य और आंतरिक रूप से भगवती सुरक्षा प्रदान करती हैं।

५-प्रति दिन देवी कवच या दुर्गा कवच के पाठ से मनुष्य के भीतर सकारात्मक शक्ति का प्रवाह बढ़ जाता है।

६- दुर्गा कवच के पाठ से आर्थिक रूप से भी स्थिति सुदृढ़ होती है।

७-दुर्गा कवच का पाठ करने से और भगवती का नित्य चिंतन करने से चिंता का समन होता है तथा प्रसन्नता व्याप्त रहती है।

 

 

 

 

Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf Download

 

 

 

Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf
Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf नीचे दी गयी लिंक से डाउनलोड करे।

 

 

 

 

पुस्तक का नाम  Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf
पुस्तक के लेखक  डा श्यामनारायण वाजपेयी 
भाषा  संस्कृत 
साइज  88 Mb 
पृष्ठ  138 
श्रेणी  भक्ति 

 

 

 

 

 

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Durga Saptshati Path In Sanskrit Pdf आपको कैसी लगी कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्स्क्राइब करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

Leave a Comment