गजेंद्र मोक्ष स्तोत्र Pdf | Gajendra Moksha Stotra in Hindi Pdf

इस पोस्ट में Gajendra Moksha Stotra in Hindi Pdf दिया जा रहा है। गजेंद्र मोक्ष स्तोत्र की Pdf Size 0.07 MB है और इसमें कुल 7 पेज हैं। आप नीचे की लिंक से गजेंद्र मोक्ष स्तोत्र फ्री डाउनलोड कर सकते हैं और आप यहां से Shiv Puran in Hindi Pdf Download भी डाउनलोड कर सकते है।

 

 

 

 

Gajendra Moksha Stotra in Hindi PDF

 

 

 

 

 

 

 

 

 Funny Short Comedy Drama Script Hindi Pdf
पन्ना धाय ड्रामा स्क्रिप्ट डाउनलोड

 

 

 

 Funny Short Comedy Drama Script Hindi Pdf
मुद्रा राक्षस पीडीएफ फ्री डाउनलोड

 

 

 

Funny Short Comedy Drama Script in Hindi Pdf Free Download
रत्नावली नाटिका Pdf Download

 

 

 

Funny Short Comedy Drama Script in Hindi Pdf Free Download
अँधेरे में उजाला Pdf Download

 

 

Funny Short Comedy Drama Script in Hindi Pdf Free Download
काली नागिन Pdf Download

 

 

 

Funny Short Comedy Drama Script in Hindi Pdf Free Download
 ब्रह्मराक्षस का नाई Pdf Download

 

 

 

Funny Short Comedy Drama Script in Hindi Pdf Free Download
ज़हर – ए – इश्क़ hindi comedy natak script Pdf

 

 

 

10-बेग़म का तकिया 

 

 

 

 

मन्त्र और स्त्रोत्त के जाप से मनुष्य के मन मस्तिष्क को शांति मिलती है गीता में वर्णित कई मन्त्र और और स्त्रोत्र का उल्लेख है जिनके जाप से विघ्न ,वाधाओ से छुटकारा मिलता है तथा आर्थिक स्थिति का मार्ग प्रसस्थ होता है। ऐसा ही एक स्तोत्र है (गजेंद्र मोक्ष स्तोत्र )इसके जाप करने से कर्ज से मुक्ति प्राप्त हो कर संकट का समन होता है। इस स्तोत्र में गज के साथ जलग्राह के युद्ध का वर्णन है।

 

 

 

 

एक समय गजराज अपने परिवार के साथ जंगल में गया हुआ था ,गजराज के साथ अन्य हाथियो को प्यास लगी। जंगल के मध्य में एक सरोवर था ,उसका जल बहुत शीतल था ,सभी हाथी सरोवर में पानी पीने लगे ,सरोवर के जल में सुंदर -सुंदर कमल के फूल खिले हुए थे ,उसे देख कर गजराज (जल -क्रीड़ा )करने का लोभ संवरण नहीं कर सका और सरोवर के जल में उतर कर  (जल-क्रीड़ा)करने लगा।

 

 

 

 

सरोवर के जल में एक एक जलग्राह का निवास था ,उसने गजराज के पैर को पकड़ लिया फिर गहरे जल में खींचने लगा ,गजराज के अन्य सदस्यो ने उसे जल से बाहर निकालने की बहुत कोशिश की परन्तु सफल नहीं हो सके ,फिर थक -हार कर गजराज को उसके भाग्य पर छोड़ कर चले गए। जल के अंदर जलग्राह की शक्ति बहुत अधिक हो गई थी ,वह जलग्राह को गहरे जल में खीच रहा था।

 

 

 

गजराज लाचार हो गया ,उसे कोई युक्ति नहीं सूझ रही थी ,तब उसने (श्री हरि बिष्णु जी )को पुकारा गजराज के द्वारा की गई प्रार्थना को (श्री हरि बिष्णु )ने स्वीकार किया और तुरंत ही गजराज की रक्षा करने के लिए अपने वाहन गरुड़ पर सवार होकर आये। श्री हरि ने (सुदर्शन चक्र) से जलग्राह को समाप्त कर दिया और गजराज की रक्षा किया ,गजराज द्वारा की गई उस प्रार्थना को (गजेंद्र -मोक्ष स्तोत्र )कहा जाता है।

 

 

 

गजेंद्र -मोक्ष स्त्रोत्र के जाप से होने वाले लाभ –

 

 

१-कर्ज से मुक्ति –

 

कोई व्यक्ति कर्ज से परेशांन है तो उसे ब्रह्म मुहूर्त में उठ कर प्रतिदिन (गजेंद्र मोक्ष स्त्रोत्र )का पाठ करना चाहिए। इस स्त्रोत्र का पाठ एक ऐसा अमोघ उपाय है ,जिससे कर्ज से छुटकारा प्राप्त होता है।

 

२-संकट -बाधा से मुक्ति –

 

मान्यताओ के अनुसार जो व्यक्ति (गजेंद्र -मोक्ष स्त्रोत्र )का पाठ करता है ,उसके सभी संकट श्री हरि की कृपा से समाप्त हो जाते हैं। इस स्त्रोत्र के पाठ करने से कठिन से कठिन वाधा ,व्यवधान को बिष्णु जी हर लेते हैं ,बहुत बड़ा कार्य भी लघु हो जाता है।

 

 

३ -पितरों की मुक्ति –

 

ऐसी मान्यता है कि  -जो व्यक्ति नियमित रूप से (गजेंद्र मोक्ष स्त्रोत्र )का पाठ करता है ,उससे पितरों की आत्मा को शान्ति प्राप्त होती है। इस स्त्रोत्र के जाप को मुक्ति का धाम कहा जाता है ,इसके जाप से पितरों को स्वर्ग में स्थान मिलता है।

 

 

४-लड़ाई ,झगड़ा ,कलह से मुक्ति –

 

 

जिस घर में सदस्यों के मध्य कलह रहती है तथा पति पत्नी के बीच झगड़ा होता रहता है ,तब इस स्त्रोत्र का नियम पूर्वक ब्रह्म मुहूर्त जाप करने से कलह के शांति का मार्ग प्रशस्त हो जाता है ,और नित्य के झगड़े से मुक्ति मिलती है।

 

 

५-प्रसन्नता कारक (गजेंद्र -मोक्ष स्त्रोत्र )

 

 

प्रति दिन ब्रह्म मुहूर्त मे (गजेन्द्र मोक्ष स्त्रोत्र )का पाठ करने से व्यक्ति को हर प्रकार की प्रसन्नता प्राप्त होती है ,क्यों कि -श्री हरी – सभी संकट ,विपत्ति को हर लेते हैं ,और उनके आशीर्वाद स्वरूप व्यक्ति को चतुर्दिक प्रसन्नता प्राप्त होती है

 

 

 

गजेंद्र मोक्ष स्तोत्र Pdf Download

 

 

Kalika Puran Pdf
Kalika Puran Pdf यहां से डाउनलोड करे।

 

 

 

 

पुस्तक का नाम  गजेंद्र मोक्ष स्तोत्र Pdf
भाषा  हिंदी 
साइज  0.07 Mb 
पृष्ठ 
श्रेणी  Dharmik Book Pdf

 

 

 

 

Gajendra Moksha Stotra in Hindi Pdf

 

 

Gajendra Moksha Stotra in Hindi Pdf

 

 

संतान गोपाल स्तोत्र Pdf
Santan Gopal Stotra Pdf Download

 

 

 

 

Note- इस पोस्ट में दिये किसी भी Pdf Book, Pdf File का इस वेबसाइट के ऑनर से कोई सम्बन्ध नहीं है। अगर इस पोस्ट में दिए गए किसी भी Pdf Book, Pdf File से किसी को भी कोई दिक्कत है तो इस मेल आईडी [email protected] पर संपर्क करें। हम तुरंत ही उस पोस्ट को साइट से हटा देंगे। 

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Gajendra Moksha Stotra in Hindi Pdf जरूर आपको पसंद आई होगी, तो मित्रों को भी इस वेबसाइट के बारे में जरूर बतायें।

 

 

Leave a Comment