काशी खंड ग्रंथ Pdf | Kashi Khand Granth Pdf

यहां आपको Kashi Khand Granth Pdf दिया जा रहा है आप इसे नीचे की लिंक से फ्री डाउनलोड कर सकते हैं और यहां से Bramhavaivart Puran Pdf डाउनलोड कर सकते हैं।

 

 

 

 

 

Kashi Khand Granth Pdf In Hindi

 

 

इस पोस्ट के बारे में—–

 

गजासुर की प्रार्थना सुन भगवान शंकर ने तथास्तु कहा और यह भी कहा कि हे पुण्यनिधे दैत्य तुमने जो वर माँगा सो मैंने दिया ही साथ में एक और वरदान मैं तुम्हे दे रहा हूँ। तुम अपनी मुक्ति हेतु इस अविमुक्त क्षेत्र में मुझसे युद्ध कर अपना शरीर छोड़ रहे हो अतः तुम्हारा यह शरीर मेरा मूर्ति हो। इस क्षेत्र यह मूर्ति सबको मुक्ति देने वाला होगा। इस मूर्ति का नाम कृत्तिवासेश्वर होगा।

 

 

Kashi Khand Granth Pdf

 

 

Note- इस पोस्ट में दिये किसी भी Pdf Book और Pdf File का इस वेबसाइट के ऑनर से कोई सम्बन्ध नहीं है। अगर इस पोस्ट में दिए गए किसी भी Pdf Book और Pdf File से किसी को भी कोई परेशानी है तो इस मेल आईडी newsbyabhi247@gmail.com पर संपर्क करें। तुरंत ही उस पोस्ट को साइट से हटा दिया जायेगा।

 

 

 

 

 

 

 

यह पोस्ट Kashi Khand Granth Pdf आपको जरूर पसंद आएगी तो इसे शेयर भी करें।

 

 

 

Leave a Comment