फलदीपिका पीडीऍफ़ | Phaladeepika in Hindi Pdf

आज इस पोस्ट में हम आप लोगो के लिए Phaladeepika in Hindi Pdf लेकर आये है आप इसे नीचे दी गयी लिंक से डाउनलोड कर सकते है साथ में आप Positive Thinking Hindi Pdf डाउनलोड कर सकते है।

 

 

 

Phaladeepika in Hindi Pdf

 

 

 

 

 

 

 

 

फलदीपिका में २८ अध्याय और ८६५ श्लोक हैं। यह ग्रंथ अपने मूल रूप में प्राचीन लिपि में ही उपस्थित था १९२५के आस -पास यह ग्रंथ नागरी लिपि में सर्व प्रथम कोलकाता से प्रकाशित हुआ था।इसमें मानव जीवन के प्रत्येक पहलू के ज्योतिषीय पक्ष पर विचार किया गया है। इसका अनुवाद दक्षिण भारतीय भाषाओ  हुआ है। जातक पारिजात नामक ग्रंथ के रचनाकार वेंकटाद्रि के पुत्र श्री वैद्यनाथ हैं।

 

 

 

 

वैद्यनाथ का जीवन काल १४ वी शताव्दी में था ,इस ग्रंथ के श्लोक वैद्यनाथ द्वारा रचित जातक पारिजात से यथावत रूप से उद्धृत किये गए हैं। इस ग्रंथ में जातक विषय पर अन्य ग्रंथों से भिन्न साक्षात्कार प्राप्त होता है। यह फल दीपिका मंत्रेश्वर की अद्भुत रचना है. यह भारतीय ज्योतिष का संस्कृत में एक प्रमुख ग्रंथ है।

 

 

 

आपके मूल रूप में यह ग्रंथ, ग्रंथ नामक प्राचीन लिपि में ही उपस्थित था। इसमें 28 अध्याय और 865 श्लोक है। 1925 के आस-पास यह ग्रंथ नागरी लिपि में सर्वप्रथम कोलकाता से प्रकाशित हुआ। इसमें मानव जीवन के प्रत्येक पहलू के ज्योतिषीय पक्ष पर विचार किया गया है। इसका दक्षिण भारतीय भाषाओ में भी अनुवाद हुआ है।

 

 

 

जातक पारिजात नामक ग्रंथ के रचनाकार षडकटाद्रि के पुत्र श्री बैद्यनाथ है और उनका जीवन काल 14 शताब्दी में था। इस ग्रंथ के श्लोक बैद्यनाथ द्वारा रचित जातक पारिजात से यथावत रूप से उद्धृत किए गए है। इस ग्रंथ में जातक विषय पर अन्य ग्रंथो से भिन्न साक्षात्कार प्राप्त होता है। फल दीपिका मंत्रेश्वर की अद्भुत रचना है। यह भारतीय ज्योतिष का संस्कृत में एक प्रमुख ग्रंथ है।

 

 

 

Phaladeepika in Hindi Pdf Download

 

 

 

 

Phaladeepika in Hindi Pdf

 

 

 

 

 

 

Note- इस पोस्ट में दिये किसी भी Pdf Book और Pdf File का इस वेबसाइट के ऑनर से कोई सम्बन्ध नहीं है। अगर इस पोस्ट में दिए गए किसी भी Pdf Book और Pdf File से किसी को भी कोई परेशानी है तो इस मेल आईडी [email protected] पर संपर्क करें। तुरंत ही उस पोस्ट को साइट से हटा दिया जायेगा।

 

 

 

 

 

 

प्रिय दोस्तों यह पोस्ट Phaladeepika in Hindi Pdf जरूर आपको पसंद आई होगी, तो मित्रों को भी इस वेबसाइट के बारे में जरूर बतायें।

 

 

 

Leave a Comment