Reema Bharti Upanyas Pdf / रीमा भारती हिंदी उपन्यास Pdf

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Reema Bharti Upanyas Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Reema Bharti Upanyas Pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से Acha Bolne Ki Kala Aur Kamyabi Book Pdf कर सकते हैं।

 

 

 

Reema Bharti Upanyas Pdf Download

 

 

Reema Bharti Upanyas Pdf
तिरंगा कहे पुकार के हिंदी नॉवेल Pdf यहां से डाउनलोड करे।

 

 

 

Reema Bharti Upanyas Pdf
काला नाग उपन्यास By रीमा भारती यहां से डाउनलोड करे।

 

 

Reema Bharti Upanyas Pdf
तीन रंग का कफ़न नॉवेल यहां से डाउनलोड करे।

 

 

Reema Bharti Upanyas Pdf
साढ़े सात करोड़ उपन्यास Pdf Download

 

 

Akram Allahabadi novels Hindi Pdf
आखिरी गोली नावेल Pdf यहां से डाउनलोड करे।

 

 

 

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें newsbyabhi247@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिए

 

 

 

मैं आपसे नाराज नही हूँ बल्कि आपकी बातें हमारे लिए प्रेरणा बन गयी है और हमारे मार्ग दर्शक का कार्य कर रही है। तभी रजनी अंदर से चाय तैयार कर के ले आयी। नरेश चाय पीने लगा उसी समय विवेक भी आ गया जो बाजार में गया था।

 

 

 

 

सुधीर कहने लगा नरेश भैया किसी भी वस्तु या समय के दो पहलू होते है एक सकारात्मक और दूसरा नकारात्मक यह अपनी सोच के ऊपर निर्भर करता है कि हम लोगो को कौन सा पहलू पकड़कर कार्य करना है और मैं आपकी बातो को सकारात्मक रूप से देखने लगा और खुद को बदलने की कोशिश कर रहा हूँ।

 

 

 

 

नरेश विवेक के साथ चला गया। सुधीर और रजनी दोनों बातें करने लगे लेकिन सुधीर कोई भी बात सिर्फ पढ़ाई के विषय में ही करता था। आज रजनी बहुत खुश थी कितने दिनों के बाद सुधीर के चेहरे पर रौनक दिखी थी। विवेक नरेश से कहने लगा हम दोनों यहां सबसे प्रतिष्ठित इंटर कॉलेज में अपना नाम लिखवाएंगे।

 

 

 

 

वह स्कूल है कुंवर कन्हैया सिंह उच्चतर माध्यमिक विद्यालय यानी कि के. के. एस. इंटर कॉलेज सोहनपुर जो गंगापुर के बगल वाला गांव है और यहां से ज्यादा दूर भी नहीं है और उसमे पढ़ने की सारी व्यवस्था गंगापुर के प्रताप भारती द्वारा होगी जो सरोज सेवा केंद्र के व्यवस्थापक है।

 

 

 

 

सरोज सेवा केंद्र की गंगापुर की शाखा की व्यवस्था देखने वाले हमारे पिता जी है यानी कि श्री रघुराज सोनकर और इस सेवा केंद्र के माध्यम से कई परोपकारी कार्यो का संचालन किया जा रहा है जैसे अनाथ बच्चो की पढ़ाई, गरीब बालक बालिकाओ को पढाई के साथ ही उन्हें उनकी इच्छा के अनुसार ही कौशल विकास करना।

 

 

 

 

उनके अंदर के गुण को विकसित करके उन्हें स्वरोजगार के लिए सहायता देना, मंदिर आये हुए श्रद्धालुओं की सहायता करना ऐसे बहुत से लोकोपयोगी कार्य सरोज सेवा केंद्र के माध्यम से किए जा रहे है। सरोज सेवा केंद्र के व्यवस्थापक की एक ही इच्छा है गंगापुर और विंदकी का कोई भी छात्र अपनी पढ़ाई आर्थिक अभाव में न छोड़ने पाए।

 

 

 

 

कोई भी बालक बालिका निरक्षर न रहे यह तो बहुत अच्छा कार्य कर रहे है। प्रताप भारती और रघु अंकल भी इस अच्छे कार्य में उनका सहयोग कर रहे है। नरेश बोला।

 

 

 

 

विवेक ने कहा – अब हमे और विलंब न करते हुए कल ही जरूरी कागजात लेकर के. के. एस. में प्रवेश ले लेना चाहिए और तुम कल आठ बजे आ जाना हम लोग शीघ्र ही वहां पहुंचकर पूरी तैयारी के साथ अपना प्रवेश सुनिश्चित कर लेंगे।

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Reema Bharti Upanyas Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और Reema Bharti Upanyas Pdf Download की तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

Leave a Comment