शिव महापुराण कथा Pdf | Shiv mahapuran In Hindi Pdf

मित्रों इस पोस्ट में हम आपको Shiv mahapuran In Hindi देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Shiv mahapuran In Hindi free download कर सकते हैं और आप यहां से Shiv Puran Pdf in Hindi भी डाउनलोड कर सकते है।

 

 

 

Shiv Mahapuran In Hindi Pdf

 

 

 

 

 

वन्दे महानन्दमनन्तलीलं महेश्वरं सर्वविभुं महान्तम्‌।
मैं परम आनन्दस्वरूप, अनन्त लीलाओंसे युक्त,
गौरीप्रियं कार्तिकविष्नराजसमुद्भवं शङ्करमादिदेवम्‌॥

 

शौनक उवाच व्यासशिष्य महाभाग सूत ज्ञानदयानिधे।
वद शम्भ्ववतारांश्च यैरकार्षीत्सतां शिवम्‌॥ ९

सूत उवाच मुने शोनक सद्भक्त्या दत्तचित्तो जितेन्द्रियः ।
अवताराञ्छिवस्याहं वच्मि ते मुनये श्रृणु॥ २

 

एतत्पृष्टः पुरा नन्दी शिवमूर्तिस्सतां गतिः।
सनत्कुमारेण मुने तमुवाच शिवं स्मरन्‌॥ ३

नन्दीश्वर उवाच असङ्ख्याता हि कल्पेषु विभोः सर्वेश्वरस्य वै।
अवतारास्तथापीह वच्म्यहं तान्यथामति॥ ४

एकोनविंशकः कल्पो विज्ञेयः श्वेतलोहितः।
सद्योजातावतारस्तु प्रथमः परिकीर्तित:॥ ५

 

तस्मिस्तत्परमं ब्रह्म ध्यायतो ब्रह्मणस्तथा।
उत्पन्नस्तु शिखायुक्तः कुमारः श्वेतलोहितः ॥ ६

 

 

गजाननको उत्पन्न करनेवाले आदिदेव महेश्वर शंकरको नमस्कार करता हूँ। शौनकजी बोले–हे व्यासशिष्य! हे महाभाग! हे ज्ञान और दयाके सागर सूतजी! आप शिवजीके उन अवतारोंका वर्णन कीजिये, जिनके द्वारा [उन्होंने] सज्जन व्यक्तियोंका कल्याण किया है॥ १॥

 

 

सूतजी बोले-हे मुने! हे शौनक! में [शिवजीमें] मन लगाकर और इन्द्रियोंको वशमें करके भक्तिपूर्वक शिवजीके अवतारोंका वर्णन आप महर्षिसे कर रहा हूँ, आप सुनिये॥ २॥

 

हे मुने! पूर्वकालमें इसी बातको सनत्कुमारने शिवस्वरूप तथा सत्पुरुषोंको रक्षा करनेमें समर्थ नन्दीश्वरसे पूछा था, तब शिवजीका स्मरण करते हुए नन्दीश्वरने उनसे कहा था॥ ३॥

 

 

 

नन्दीश्वर बोले–[ हे सनत्कुमार!] सर्वव्यापक तथा सर्वेश्वर शंकरके विविध कल्पोंमें यद्यपि असंख्य अवतार हुए हैं, फिर भी मैं अपनी बुद्धिके अनुसार यहाँपर उनका वर्णन कर रहा हूँ॥ ४॥

 

 

 

उन्नीसवाँ कल्प श्‍्वेतलोहित नामवाला जानना चाहिये, इसमें प्रथम सद्योजात अवतार कहा गया है॥ ५॥

 

 

 

उस कल्पमें जब ब्रह्माजी परम ब्रह्मके ध्यानमें अवस्थित थे, उसी समय उनसे शिखासे युक्त श्वेत और लोहित वर्णवाला एक कुमार उत्पन्न हुआ॥ ६॥…पूरी बुक नीचे की लिंक से डाउनलोड करें। 

 

 

 

Shiv Puran in Hindi Download

 

 

 

Shiv mahapuran In Hindi Pdf

 

 

 

पुस्तक का नाम  Shiv mahapuran Hindi 
पुस्तक के लेखक 
भाषा  हिंदी 
साइज  11 Mb 
पृष्ठ  1740 
श्रेणी  धार्मिक

 

 

 

 

 

 

Shiv Puran Gita Press Gorakhpur Pdf
Shiv Puran Gita Press Gorakhpur Pdf यहां से डाउनलोड करे।

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Shiv mahapuran Hindi आपको कैसी लगी कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्स्क्राइब करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

Leave a Comment