सोचो और अमीर बनो Pdf | Think And Grow Rich In Hindi Pdf

मित्रों इस पोस्ट में हम आपको Think And Grow Rich In Hindi देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Think And Grow Rich Hindi Pdf free download कर सकते हैं और आप यहां से Amiri Ki Chabi Aapke Haath Mein Pdf भी डाउनलोड कर सकते है।

 

 

 

Think And Grow Rich In Hindi Pdf

 

 

 

 

 

 

The Source Power of Happy Thoughts pdf Download

 

 

 

इस book में आपको अमीर आदमी बनने का रास्ता बताया गया है, जिसमे कुछ नियम धनवान बनने में सहायक होंगे ,जिसे इस किताब में बताया गया है धनवान बनने का मतलब सिर्फ पैसा कमाने से नहीं है। धनवान बनने से इस बात का मतलब है की आप जो कोई भी कार्य करें ,उसमे आप को सफल अवश्य होना है इन कुछ steps को नीचे बताया गया है।

 

 

मनुष्य सोच कर कुछ भी कर सकता है ,अगर मनुष्य के पास मजबूत विचार होते हैं तो कुछ भी कर सकने की स्थिति में रहता है ,सोचने -विचारने का काम दिमाग करता है ,जो दिमाग सोचने का कार्य कर सकता है ,वह सोचे हुए कार्य को मूर्त रूप भी दे सकता है।

 

 

मनुष्य अपने कार्य में असफल क्यों रहता है ?उसकी असफलता का मूल कारण क्या है ?

 

 

मनुष्य की असफलता का कारण यह है कि  -वह अस्थायी रूप से पराजित होने की भावना के साथ संघर्ष का मैदान छोड़ देता है ,अगर मनुष्य मजबूती के साथ कार्य स्थल के मैदान में डटा रहता है तो उसे सफलता अवश्य मिलती है।

 

 

सफलता प्राप्त करने के कुछ नियम इस प्रकार हैं –

 

 

१- सफल होने की प्रवल इच्छा -मनुष्य के मन के भीतर किसी कार्य को करने की प्रवल इच्छा का होना सफलता कीओर बढ़ने वाला पहला कदम है।  मनुष्य की जो इच्छाएं प्रवल होती हैं ,वह खुद सफल होने के लिए रास्ता तलाश लेती हैं। दिमांग से सोचने का कार्य असीमित होता है ,उसे किसी सीमा तक नहीं बांधा जा सकता है सिवाय इसके कि जो सीमा मनुष्य खुद निर्धारित करता है।

 

 

 

२-आस्था ,सकारात्मक विचार -मनुष्य को हमेशा सकारात्मक विचार को ग्रहण करना चाहिए ,तो इससे प्राप्त होने वाले परिणाम भी सकारात्मक होंगे। आस्था का मतलब मनुष्य को अपने लक्ष्य के प्रति हर बार अपने अवचेतन मन को निर्देश देना चाहिए ,आस्था होने से ही किसी कार्य को करने का विश्वास हो जाता है।

 

 

 

३- आत्म सुझाव ,अपने मस्तिष्क को समझाना  – मनुष्य को जो भी लक्ष्य प्राप्त करना है उसे भाव पूर्ण ढंग से अपने अवचेतन मन ( subconscious mind ) को ग्रहण करने के लिए कहना चाहिए ,भाव पूर्ण दांग से कही गई बात को मनुष्य का अवचेतन मन जल्दी ग्रहण करता है। प्रत्येक मुश्किल क्षण के बाद ,हर असफलता के बाद ,इससे बड़ा या इसके बराबर लाभ छुपा रहता है।

 

 

 

४ -लक्ष्य का विशेष ज्ञान या अनुभव – मनुष्य के लिए अपने लक्ष्य का ज्ञान अवश्य होना चाहिए सिर्फ कल्पना करने मात्र से सफलता नहीं मिलती है। अगर व्यक्ति के पास उस कार्य के वारे में अनुभव (specialized knowledge) नहीं है तो ,सफल नहीं हुआ जा सकता है। दूसरी बात अगर मनुष्य के साथ कार्य करने वाले विशेषज्ञ लोंगो का साथ है तो उसे सफल होने में देर नहीं लगेगी।

 

 

 

५- कल्पनाशक्ति के साथ रचनात्मक शक्ति – कल्पना से ही रचनात्मकता का जन्म होता है ,यदि व्यक्ति किसी वस्तु की कल्पना करता है ,तो उसे -मूर्त -रूप भी दे सकता है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण वर्तमान का समय है ,मनुष्य अपनी कल्पना शक्ति के द्वारा बहुत से अविष्कारों की रचना कर चुका है।

 

 

 

 

६-लक्ष्य प्राप्ति की योजना बनाना -मनुष्य को अपने लक्ष्य की योजना (planning ) बनानी चहिये और planning  के साथ ही आगे बढ़ना चाहिए ,यदि मनुष्य अपनी योजना ( planning )में असफल हो जाय तो उसे हताश ,निराश ,नहीं होना चाहिए बल्कि अपनी योजना  को बदलते हुएआगे बढ़ना चाहिए।

 

 

 

७-निर्णय की क्षमता ,अडिग रहना -निर्णय लेने की क्षमता से मनुष्य काआत्म विश्वास बढ़ता है ,किसी भी बात में टाल  -मटोल करने से मनुष्य को बचना चाहिए ,उसे खुद निर्णय लेने में सक्षम होना चाहिए।

 

 

 

Think And Grow Rich In Hindi Pdf Download

 

 

 

Think And Grow Rich In Hindi Pdf
Think And Grow Rich In Hindi Pdf

 

 

 

पुस्तक का नाम  Think And Grow Rich Hindi
पुस्तक के लेखक  नेपोलियन हिल 
भाषा  हिंदी 
साइज  2 Mb 
पृष्ठ  159 
श्रेणी 

 

 

 

 

 

 

Charaka Samhita in English Pdf Free Download

 

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Think And Grow Rich In Hindi आपको कैसी लगी कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्स्क्राइब करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

Leave a Comment