Yantra Banane Ki Vidhi Pdf / यंत्र बनाने की विधि Pdf

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Yantra Banane Ki Vidhi Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Yantra Banane Ki Vidhi Pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से यंत्र शास्त्र इन हिंदी Pdf Download कर सकते हैं।

 

 

 

Yantra Banane Ki Vidhi Pdf

 

 

Yantra Banane Ki Vidhi Pdf
यंत्र बनाने की विधि Pdf Download

 

 

 

वृहद पराशर होरा शास्त्र Pdf Download

भृगु सूत्र Pdf Download

 

 

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिए

 

 

 

फिर रावण ने अक्षय कुमार को पठाया। वह असंख्य योद्धाओ को साथ लेकर आया। उसे आते हुए देखकर हनुमान जी एक वृक्ष हाथ में लेकर ललकारा और उसे परलोक भेजकर महाध्वनि से गर्जना की।

 

 

 

18- दोहा का अर्थ-

 

 

 

उन्होंने सेना में कुछ को परलोक भेज दिया और कुछ को मसल डाला और कुछ को पकड़कर धूल में मिला दिया। कुछ ने फिर जाकर पुकार किया कि हे प्रभु! बंदर बहुत ही बलवान है।

 

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

 

पुत्र को परलोक सिधारने का समाचार सुनकर रावण क्रोधित हो उठा और उसने अपने बड़े पुत्र बलवान मेघनाद को भेजा। उसने कहा कि हे पुत्र! उसे परलोक मत भेजना बांध लाना।

 

 

 

उस बंदर को देखा जाय कि कहा का है। इंद्र को जीतने वाला अतुलनीय योद्धा मेघनाद चला। भाई का परलोक सिधार जाना सुनकर उसे क्रोध हो गया। हनुमान जी ने कहा कि अबकी बार भयानक योद्धा आया है। तब वह कटकटाते हुए गरज कर दौड़े।

 

 

 

 

उन्होंने एक बहुत बड़ा वृक्ष उखाड़ लिया और उसके प्रहार से लंकेश्वर रावण के पुत्र को रथ से हीन कर दिया और उसे नीचे पटक दिया। उसके साथ जो बड़े-बड़े योद्धा थे उनको पकड़कर हनुमान जी ने अपने शरीर से मसलने लगे।

 

 

 

उन लोगो को परलोक भेजकर फिर मेघनाद से लड़ने लगे। लड़ते हुए वह दोनों ऐसे मालूम होते थे मानो दो श्रेष्ठ गजराज भिड़ गए हो। हनुमान जी ने उसे एक घूंसा दिया और एक वृक्ष पर जाकर चढ़ गए।

 

 

 

 

मेघनाद को क्षण भर के लिए मूर्छा आ गयी। फिर उठकर उसने बहुत माया रच डाली। लेकिन वह पवन पुत्र को जीत नही सका।

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Yantra Banane Ki Vidhi Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

Leave a Comment